14 अप्रैल तक झारखंड में ये चीज़े रहेगी बंद

कोरोना वायरस के चलते झारखंड सरकार ने भी 14 अप्रैल तक स्कूलों,कॉलेज,शॉपिंग मॉल,सिनेमा हॉल,ज़ू,स्विमिंग पूल,जिम,यूनिवर्सिटी,मल्टीप्लेक्स को बंद रखने का निर्देश दिया है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए एहतियातन जमशेदपुर के सभी प्राइवेट स्कूलों को पहले ही 31 मार्च तक बंद रखने का निर्देश दिया गया था। नए सत्र की कक्षाएं 1 अप्रैल से शुरू होने वाली थी जो सरकार के आदेश के बाद 14 अप्रैल के बाद शुरू होंगी। हालांकि स्कूलों में परीक्षाएं पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के अनुसार संचालित होगी। सीबीएसई के छात्र अगर चाहे तो मास्क लगाकर परीक्षा दे सकते है। टाटा मोटर्स ने भी ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियों को घर से काम करने को कहा है।

कोरोना वायरस जो की अब राष्ट्रीय आपदा घोषित हो चुका है। रविवार को भारत में इसके और 11 नए मामले सामने आये । इसके साथ ही भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 110 हो गयी है।देहरादून में एक आईएफ़एस ट्रेनी वायरस से संक्रमित पाया गया।इसके अलावा केरल में 3 ,महाराष्ट्र में 6 और तेलंगाना में एक संक्रमण की पुष्टि हुई। जो की सोमवार को बढ़कर 116 हो गयी। महाराष्ट्र में 5 और ओड़िशा में 1 मरीज़ की पुष्टि हुई।

Source: Ministry Of Health And Family Welfare (www.mohfw.gov.in)

कोरोना वायरस से निपटने के लिए हर राज्य की सरकार अपने अपने स्तर पर कदम उठा रही है। कर्नाटक की सरकार ने हफ्ते भर तक कर्नाटक को शट डाउन की घोषणा की । उत्तर प्रदेश सरकार ने ग्रेटर नोएडा और नोएडा के सभी सिनेमा हॉल 31 मार्च तक बंद करने की घोषणा की है। तेलंगाना की सरकार ने भी कोरोना वायरस से बचाव के लिये राज्य के सभी शॉपिंग मॉल, सिनेमा, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर और अन्य सभी शिक्षण संस्थानों को 31 मार्च तक बन्द रखने का निर्देश दिया है।

Image Source : Livemint

विभिन्न राज्यों की सरकारों द्वारा कोरोना से बचाव के लिए उठाये गए कदमो के बाद ऐसी उम्मीद की जा रही है की झारखंड सरकार भी जल्द की वायरस से निपटने के लिए जरूरी कदम उठा सकती है। इससे निपटने के लिए राज्य सरकार ने एहतियाद के तौर पर पहले ही कई कदम उठा चुकी है। राज्य में अभी तक कोरोना के एक भी मरीज की पुष्टि नही हुई है। जो भी संदिग्ध मरीज़ थे उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। लेकिन इसके झारखंड आने के पूर्व ही उसके रोकथाम को लेकर कदम उठाये जा रहे है।

स्वास्थ्य और आपदा मंत्री बन्ना गुप्ता ने रविवार को अधिकारियों के साथ बैठक की जिसमे कोरोना वायरस से निपटने के लिए क्या क्या जरूरी कदम उठाये जा सकते है इसपर चर्चा की गयी,और कई निर्णय लिए गए। बैठक में ये भी तय किया गया की अगर विपरीत परिस्थिति आयी तो कोल्हान के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाये जायँगे। टीएमएच् को इसके लिए 20 बेड सुरक्षित रखने का निर्देश दिया गया।

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से अपिल की थी की स्कूल,कॉलेज,चिड़ियाघर,सिनेमा हॉल,शॉपिंग मॉल समेत ऐसी जगह जहाँ भीड़ रहती है उन्हें 31 मार्च तक के लिए बंद किया जाए। इसके साथ ही बड़े कार्यक्रमों पर भी रोक लगायी जाये।

सोमवार को विधानसभा का सत्र शुरू होने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य के सभी शॉपिंग मॉल,सिनेमा हॉल,कॉलेज,स्कूलों,कोचिंग सेंटरो,ज़ू,स्विमिंग पूल, जिम, यूनिवर्सिटी, मल्टीप्लेक्स को 14 अप्रैल तक बंद रखने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा सरकार इसपर नज़र बनाये हुए है जल्दी ही इसपर निर्णय लिया जाएगा। झारखंड सरकार ने कोरोना वायरस के मरीजों की पहचान के लिए खास तौर पर थर्मल स्कैनर मशीन खरीदने का निर्णय लिया है। जिसका इस्तेमाल रेलवे स्टेशनों और एयरपोर्ट पर जांच के लिए होगा।

सोमवार को विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही कोरोना वायरस का मामला पूरी तरह से सदन में छाया रहा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा- कोरोना वायरस एक महामारी का रूप ले चुका है। विभिन्न देशों से होते हुए हमारे देश में और विभिन्न राज्यों में फैल रहा है। चिंता जाहिर है और होना भी चाहिए सबको। इस पर सर्तक रहना जरूरी है।


Leave your comments