[🔴 DAILY NEWS UPDATE]
टाटा परिवार पर बनेगी फ़िल्म, आईपीएल फाइनल में दिखेगा छऊ नृत्य

1. झारखंड के नक्सलियों पर बने फिल्म में दिखेंगे मनोज वाजपेयी

Manoj Bajpayee will be seen in a film on Jharkhand’s Naxalites.
अभिनेता पद्मश्री मनोज बाजपेयी इन दिनों झारखंड के गुवा में अपनी आगामी जोरम फिल्म की शूटिंग कर रहे हैं। सरांडा के जंगल और सेल में खदानों में उनकी फिल्म की शूटिंग चल रही है। इस दौरान मनोज बाजपेयी ने कहा – गुवा में लगातार पांच दिनों तक की गई जोराम फिल्म की शूटिंग में सभी लोगों का भरपूर सहयोग रहा है। 

2. परीक्षा फॉर्म नही भर पा रहे विधार्थी

Students unable to fill exam form.
यूजी सेमेस्टर वन के परीक्षा फॉर्म 20 मई से भरे जा रहे है। काफी प्रयास करने के बावजूद विद्यार्थी फॉर्म भरने में असमर्थ है। इसका कारण वेबसाइट में तकनीकी समस्या बताया जा रहा है। जिससे विद्यार्थियों को काफी परेशानिया हो रही है।

3. बड़े पर्दे पर दिखाई जाएगी टाटा परिवार की कहानी

The story of the Tata family will be shown on the big screen.
भारत के सबसे प्रभावशाली और लोकप्रिय कारोबारी परिवार – टाटा की कहानी जल्द ही पर्दे पर सुनाई जाएगी। टी-सीरीज फिल्म्स और ऑलमाइटी मोशन पिक्चर ने टाटा परिवार की कहानी के एवी अधिकार हासिल कर लिए हैं। स्क्रीन के लिए कहानी ‘द टाटा:’ किताब से रूपांतरित की जाएगी।

4. आईपीएल फाइनल में दिखेगा झारखंड के छऊ नृत्य

Chhau dance of Jharkhand will be seen in IPL final.
आईपीएल का फाइनल 29 मई को गुजरात के अहमदाबाद स्थित नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा। प्रतियोगिता के समापन समारोह में झारखंड के छऊ नृत्य की प्रस्तुति होगी। सरायकेला-खरसावां में ईचागढ़ प्रखंड के सुदूरवर्ती गांव चोगा के रहने वाले प्रभात कुमार महतो 10 सदस्यीय टीम के साथ परफॉर्म करेंगे।

5. जमशेदपुर के ठेला-खोमचा वाले वसूली से परेशान

Troubled by the recovery of jamshedpur hawkers.
जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने जमशेदपुर अक्षेस के विशेष पदाधिकारी कृष्ण कुमार से कहा है कि वे ठेला-खोमचा पर विभिन्न प्रकार का व्यवसाय करने वालों को व्यवस्थित एवं नियंत्रित करें, ताकि उनका जीवन यापन निर्विघ्न चले। ठेला वालों को जेएनएसी ने वेंडर लाइसेंस दिया है। उन्होंने बताया कि दो दिन पूर्व बड़ी संख्या में ठेला संचालक मुझसे मिले थे। इस दौरान उन्होंने अपनी परेशानियां बताई थी। उन्होंने बताया कि कई संभ्रांत लोग ठेला ख़रीद कर किराये पर लगाने के लिये दे दे रहे हैं, जिससे उनका व्यवसाय प्रभावित हो रहा है।

6. रांची और जमशेदपुर की हवा बेहद खराब

The air of Ranchi and Jamshedpur is very bad.
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण पर्षद (सीपीसीबी) ने 2015 से 2019 के डाटा का अध्ययन करने के बाद देश के 124 शहरों के वातावरण को स्वास्थ्य के लिए खतरनाक पाया था। इसमें झारखंड का धनबाद शहर भी शामिल था। यहां पर्यावरण सुधारने के लिए भारत सरकार के निर्देश पर एक्शन प्लान बना है। जिसमे झारखंड के रांची और जमशेदपुर के अलावा राजकोट, फरीदाबाद, वसाई-विरार, जबलपुर, चेन्नई और मेरठ शामिल हैं।

Leave your comments